Latest Posts

उत्तर प्रदेश को जल्द मिलने वाला है डाटा सेंटर पार्क का सौगात,5000 करोड़ की लागत से बने इस डाटा सेंटर पार्क में है कई खूबियां

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा अपने नए कार्यकाल में लगातार उत्तर प्रदेश के विकास कार्यों में सहयोग किया जा रहा है। एक तरफ जहां कंपनी फैक्ट्री बैठाई जा रही है वहीं दूसरी तरफ सड़क एक्सप्रेसवे और हाईवे का जाल बिछाया जा रहा है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार प्रयत्न कर रहे हैं कि उत्तर प्रदेश के विकास में किसी भी तरह की कमी ना रहे हैं और साथ ही साथ अधिक संख्या में लोगों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जाएं।

सीएम योगी का ड्रीम प्रोजेक्ट डाटा सेंटर पार्क उत्तर प्रदेश में अगले महीने तक उद्घाटन कर दिया जाएगा। आपको बता दें कि इस डाटा सेंटर पार्क के उद्घाटन होने के बाद लाखों की संख्या में युवाओं को रोजगार मिलेगी और यह डाटा सेंटर पार्क 5000 करोड़ रुपए की लागत से तैयार किया गया है।

हीरानंदानी समूह द्वारा विकसित करीब 03 लाख स्क्वायर फीट परिसर में फैले इस डेटा सेंटर पार्क को महज 24 महीने में तैयार कर लिया गया है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 15 अगस्त के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों से इस डाटा सेंटर पार्क का उद्घाटन किया जाएगा।

सरकार की ओर से मिली जानकारी के अनुसार ग्रेटर नोएडा क्षेत्र में लाइव होने को तैयार इस अत्याधुनिक डेटा सेंटर की पहली बिल्डिंग को योट्टा डी-1 नाम दिया गया है।

आपको बता दें कि यह डाटा सेंटर बिल्डिंग की कुल क्षमता 5000 सरवर की है। बता दें कि इस डाटा सेंटर पार्क में लाखों लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है।

जिससे तकरीबन 48 घंटे का आईटी पॉवर बैकअप मिल सकेगा. तय परियोजना के अनुसार यहां कुल 06 डेटा सेंटर बिल्डिंग बनाई जानी है. जिसके बाद यहां कुल 30 हजार सर्वर रैक की क्षमता होगी और करीब 250 मेगावॉट बिजली का उत्पादन भी होगा। यह डाटा सेंटर पर कई मायनों में खास होगा आपको बता दें कि मात्र 24 महीने के अंदर इस डाटा सेंटर पार्क को बनाकर तैयार कर लिया गया है।

Latest Posts

Don't Miss