Latest Posts

कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर आगरा अलर्ट, बिना कोरोना जांच के नहीं कर सकेंगे ताज का दीदार

चीन समेत कुछ देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामलों को देखते हुए आगरा स्वास्थ्य विभाग ने ताजमहल देखने आने वाले आगंतुकों खास तौर पर विदेशी पर्यटकों की कोरोना जांच सख्ती से शुरू कर दी है। नए साल के मौके पर ताजमहल देखने वाले पर्यटकों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। ऐसे में प्रशासन कोरोना को लेकर किसी तरह की कोई कोताही नहीं बरतना चाहता।

आगरा एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड पर स्वास्थ्य अधिकारियों ने कोविड टेस्टिंग के लिए कमर कस ली है। आगरा के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ ए के श्रीवास्तव के मुताबिक चीन, अमेरिका और ब्राजील से कोरोना को लेकर आ रही चिंताजनक रिपोर्ट को देखते हुए एहतियाती उपाय किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि ताजमहल को देखने के लिए बड़ी संख्या में पर्यटक आते हैं। खास तौर पर विदेशी पर्यटक सर्दी के मौसम में आगरा घूमने आते हैं। नए साल पर भी बड़ी संख्या में विदेशी पर्यटकों के आगरा आने की उम्मीद है।

सीएमओ ने कहा कि हमने हवाई अड्डों, रेलवे स्टेशनों और बस स्टैंडों पर कोरोना की जांच तेज कर दी है। वर्तमान में जिला अस्पताल स्थित जांच केंद्र सहित विभिन्न स्थानों पर रोजाना करीब 500 से 1000 सैंपलों की जांच की जा रही है। सीएमओ ने कहा कि जरूरत पड़ने पर हम सैंपल टेस्टिंग की संख्या बढ़ाने की योजना बना रहे हैं।

उन्होंने कहा कि ताजमहल में संवेदनशीलता को समझते हुए हम यह सुनिश्चित करने का प्रयास कर रहे हैं कि ताज में आने वाले प्रत्येक आगंतुक का कोविड परीक्षण हो। विदेशी नागरिकों पर खास तौर पर नजर रखी जा रही है, खासकर उन देशों से आने वाले लोगों पर जहां इन दिनों कोविड के मामले सामने आ रहे हैं।

उन्होंने कहा हमें राज्य सरकार से इस बाबत कोई खास दिशा-निर्देश नहीं मिले हैं, लेकिन हमने मास्क पहनने और शारीरिक दूरी पर जोर देना शुरू कर दिया है। इस बीच, भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) के अधिकारियों ने पर्यटकों से अपील की है कि वे टिकट खिड़की और स्मारक के प्रवेश द्वार पर कतारों में जमा होने से बचने के लिए ऑनलाइन टिकट का विकल्प चुनें।

Latest Posts

Don't Miss