Latest Posts

कोरोना बढ़ा तो अस्‍पतालों में कैसा होगा इंतजाम? एडवाइजरी जारी; मेडिकल छात्रों को वैक्‍सीन की प्र‍िकॉशन डोज की तैयारी 

चीन में कोरोना से बिगड़ते हालात के बीच भारत के अस्‍पतालों में भी अलर्ट हो गया है। अस्पताल से लेकर एयरपोर्ट तक व्यवस्थाओं को खंगाला जा रहा है। गोरखपुर में बीआरडी मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने कोविड प्रोटोकॉल को लागू करने का फैसला किया है। प्राचार्य डॉ गणेश कुमार ने इसको लेकर आदेश जारी कर दिया है। उन्होंने बताया कि गुरुवार को प्रमुख सचिव की तरफ से इसको लेकर आदेश मिले हैं। अब से हर मरीज के पास अधिकतम एक तीमारदार ही रहेगा। अस्पताल में तैनात सभी कर्मियों को प्रिकाशन डोज लगाई जाएगी। कर्मचारी, डॉक्टर और नर्सों को कोविड मरीजों के इलाज के लिए ट्रेनिंग दी जाएगी। उन्होंने बताया कि एमबीबीएस और पैरामेडिकल के छात्रों को भी प्रिकॉशन डोज लगाई जाएगी। इसके लिए वैक्सीन का इंतजाम सीएमओ करेंगे।

एडवाइजरी जारी होने के बाद अलर्ट स्वास्थ्य विभाग ने कोविड पेशेंटस का इलाज करने के लिए 12 सरकारी और 45 प्राइवेट हॉस्पिटल को तैयार रहने का निर्देश दिया गया है। सीएमओ ने बताया कि इन अस्पतालों में करीब 2900 बेड हैं। सरकारी अस्पताल में 1485 और प्राइवेट हॉस्पिटल में 1347 बेड का उपयोग जरूरत पर कर लिया जाएगा। आइसीयू बेड में 562 सरकारी अस्पतालों और 461 प्राइवेट हॉस्पिटल में हैं। सभी बेडों पर वेंटिलेटर, हाई फ्लो नेजुल कैनुला(एचएफएनओ) या बाइपैप लगाए गए हैं।

कोरोना संक्रमण को लेकर आईएमए अलर्ट

चाइना में कोरोना का प्रकोप देखते हुए आईएमए की आपदा प्रबंधन कमेटी के लोग अपने स्तर से तैयारियां कर लें। जन जागरण तथा पब्लिक अवेयरनेस प्रोग्राम चालू कर दें। इस बीमारी से निपटने के लिए सारे उपाय जो भी आईएमए कर सकता है, उस पर चिंतन मनन कर लें। आईएमए भवन में गुरुवार को मीटिंग हुई। आपदा प्रबंधन कमेटी के सदस्यों ने कोरोना को लेकर चर्चा की। नए वेरिएंट के बदलने पर वैक्सीन काम नहीं करता है लेकिन हमें इसे नहीं मानना है। शत-प्रतिशत नहीं तो कुछ जरूर काम करेगा। इसलिए सभी लोग वैक्सीन लगवा लें। बच्चों का ध्यान रखें। बुखार हो, खांसी हो, सांस फूले, कमजोरी हो तो तुरंत डॉक्टर को दिखाएं।

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. आशुतोष कुमार दूबे ने कहा कि कोरोना को लेकर तैयारियां चल रही हैं। सभी कोविड अस्पतालों को तैयार रहने का निर्देश दिया गया है। हमारी टीम जाकर अस्पतालों में बेड व वेंटीलेटर की जांच भी कर रही है। बच्चों के लिए 89 बेड का आइसीयू तैयार किया गया है।

आईएमए की आपदा प्रबंधन टीम एक्टिव

कोरोना से जंग में आईएमए भी आगे आया है। अध्यक्ष डॉ शिव शंकर शाही ने बताया कि संस्था में आपदा प्रबंधन कमेटी है। जो अब हरकत में आ रही है। यह कमेटी कोरोना से जंग में सामाजिक कार्य करेगी। कमेटी टेलीकंसल्टेशन, होम विजिट, जन जागरूकता कार्यक्रम, मास्क एवं दवाइयां वितरण करेगी।

स्वास्थ्य विभाग ने जारी की एडवाइजरी
-कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर और मानव संसाधन की तैनाती करें 
-कोविड प्रोटोकाल का पालन करें 
-सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क का इस्तेमाल करें
-प्रत्येक ब्लाक में रैपिड रिस्पांस टीम को सक्रिय करें 
-जिले में अन्य राज्यों और विदेश से आने वाले यात्रियों की कोविड जांच कराएं 
-आरटीआई, आईएलआई और सॉरी के मरीजों दवाईयां उपलब्ध कराए
-प्रत्येक आशा के पास कम से कम 10-10 कोविड दवाओं की किट उपलब्ध कराएं 
-प्रत्येक अस्पतालों पर कोविड हेल्प डेस्क की स्थापना करना सुनिश्चित करें

Latest Posts

Don't Miss