Latest Posts

खाद्य पदार्थों की कीमतों में बढ़ोतरी का रेस्‍टोरेंटों-होटलों पर दिखने लगा असर,जानिए खाने के कीमतों में कितनी हुई बढ़ोतरी

खाद्य पदार्थों की कीमतों में बढ़ोतरी सोमवार के दिन देखी गई जिसके बाद से इसका असर अब रेस्टोरेंट और बाजारों में भी देखा जाने लगा है। अनब्रांडेड खाद्य पदार्थ जैसे दाल चावल आटा गेहूं समेत कई चीजों की कीमतों में बढ़ोतरी हुई और इन चीजों पर जीएसटी टैक्स लागू कर दिया गया है।

28 जून को जीएसटी बढ़ने की आहट के साथ ही कारोबारियों ने आटा, दाल, सूजी, मैदा से लेकर अन्य अनब्रांडेड खाद्य पदार्थों की कीमतों में बढ़ोतरी कर दी थी।

10 दिन पहले और सोमवार के दिन के रेट में देखे तो 5 से 10% की बढ़ोतरी देखने को मिली है। सोमवार के दिन से लगातार होटल और रेस्टोरेंट के खाने में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है।

अनब्रांडेड खाद्य पदार्थों को जीएसटी के दायरे में लाए जाने की सूचना 28 जून से ही कारोबारियों के व्हाट्सएप ग्रूपों में वायरल होने लगी थीं।

सोयाबीन को छोड़ दें तो आटा, दाल, मैदा, सूजी, चना, चना दाल के साथ अन्य सभी वस्तुओं की कीमतों में बढ़ोतरी होने लगी थी। 15 जुलाई के बाद से कीमतें करीब-करीब स्थिर हैं। 12 दिन पहले 25 किलो पास्ता के पैकेट की कीमत 850 रुपये थी, जो 950 रुपये हो गई है। इसी तरह सेंवई थोक में 70 से 75 रुपये किलो था, जो 80 से 82 रुपये पहुंच गया है।

खाद्य सामग्री 8 जुलाई को रेट 18 जुलाई का रेट

आटा 2410 रुपये कुंतल 2610 रुपये कुंतल

चावल स्टीम 3100 रुपये कुंतल 4000 रुपये कुंतल

सूजी 2550 रुपये कुंतल 2720 रुपये कुंतल

मैदा 2400 रुपये कुंतल 2750 रुपये कुंतल

सोयाबीन बोरे वाला 1750 रुपये प्रति 20 किलो 1620 रुपये प्रति 20 किलो

दाल अरहर 85 से 91 रुपये प्रति किलो 95 से 102 रुपये प्रति किलो

दाल चना पहले 53 किलो प्रति किलो 59 रुपये प्रति किलो

Latest Posts

Don't Miss