गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के निर्माण कार्य में तेजी आएगी क्योंकि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आदेश दिया है कि जल्द से जल्द इस एक्सप्रेस-वे का निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाए।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सत्ता में आने के बाद लगातार एक्सप्रेसवे और हाईवे का निर्माण कार्य किया जा रहा है। लगातार बंद एक्सप्रेस हाईवे कारण लोगों का यातायात भी काफी सुविधाजनक हो रहा है।

गोरखपुर से लखनऊ की दूरी अब मात्र 40 से 50 मिनट में तय हो जाएगी। आपको बता दें कि बहुत जल्द गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे का निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा। गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे को 3 सालों में बनाकर तैयार कर लिया जाएगा। विभाग का कहना है कि जुलाई के महीने से इस एक्सप्रेस-वे का निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

गोरखपुर शहर को बहुत ही जल्द एक और एक्सप्रेसवे की सौगात मिलने वाली है। गोरखपुर शहर को पूर्वांचल एक्सप्रेस वे से कनेक्ट करने के लिए गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे को बनाने का कार्य तेजी से किया जा रहा है। आपको बता दें कि गीडा के द्वारा बहुत तेजी से गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे को बनाने का कार्य किया जा रहा है।

आपको बता दें कि यह एक्सप्रेसवे गोरखपुर को पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के माध्यम से लखनऊ से जुड़ेगा। गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के निर्माण होने के बाद काफी कम समय में गोरखपुर से लखनऊ की दूरी तय की जा सकेगी।

गोरखपुर और लखनऊ के बीच यह एक्सप्रेसवे 1 कॉरिडोर के रूप में कार्य करेगा। आपको बता दें कि गोरखपुर से लगभग 90 किलोमीटर की एक एक्सप्रेसवे निकाली जा रही है जो आजमगढ़ में जाकर पूर्वांचल एक्सप्रेस वे से मिल जाएगी। अधिकारियों का कहना है कि साल 2022 के अंत तक इस एक्सप्रेस-वे का निर्माण पूरा कर लिया जाएगा।