Latest Posts

जानिए क्या होता है टर्मिनल, जंक्शन और सेंट्रल स्टेशन में अंतर

हमारे देश भारत में अधिकतर लोग ट्रेन में सफर करते हैं क्योंकि इसमें सफ़र करना सुविधाजनक और आसान होता है. ट्रेनों में सफर करने के दौरान स्टेशन पर एनाउंसमेंट में जरूर सुना होगा कि आपका इस जंक्शन, इस टर्मिनल या फिर इस सेंट्रल स्टेशन में स्वागत है.लेकिन क्या आपको पता है कि से स्टेशन के नाम आगे सेंट्रल, जंक्शन या फिर टर्मिनल क्यों लगाया जाता है?

आपको बता दें की भारत में अभी 8 हजार से अधिक रेलवे स्टेशन ह.सभी को अलग-अलग भागों में बांटा गया है.आप ज़ब भी ट्रेन से कही जाते है तो जरूर सुनने को मिलता है स्टेशन, टर्मिनल या सेंट्रल. आपको बता दे की इन सब मे अंतर होता है. आज हम आपको इनसब मे अंतर बताने वाले है.

1) सेंट्रल (Central)

2) टर्मिनल (Terminal)

3) जंक्शन (Junction)

4) स्टेशन (Railway Station)

सेंट्रल रेलवे स्टेशन क्या है? What is Central Railway Station?

सेंट्रल रेलवे स्टेशन हम उस स्टेशन को कहते हैं जहां से आप कई रूट की ट्रेन ले सकते हैं.भारत में 5 सेंट्रल स्टेशन हैं.

टर्मिनल या टर्मिनस रेलवे स्टेशन What is Terminal or Terminus Railway Station?

टर्मिनल कहें या टर्मिनस रेलवे स्टेशन कहें दोनों एक ही है. मुख्यरूप से टर्मिनल रेलवे स्टेशन हम उस स्टेशन को कहते हैं जहां से आगे ट्रेनें नहीं जाती हैं.

जंक्शन (Junction)

जिस स्टेशन पर कम से कम तीन रेल लाइनें आकर मिलती हैं, उन्हें जंक्शन कहा जाता है. भारत में मथुरा जंक्शन से सर्वाधिक 7 रूट की ट्रेनें गुजरती हैं.

स्टेशन (Station)

स्टेशन से एक रेलवे लाइन सीधे एक ही दिशा में होकर गुजरती है.

Latest Posts

Don't Miss