Latest Posts

पूरा होगा घर बनाने का सपना: सरिया का दाम हुआ आधा, मोरंग और सीमेंट भी सस्ती

घर बनाने वाले मैटेरियल्स की कीमतों में लगातार कमी देखी जा रही है। पहले ईद और कई तरह के घर बनाने वाले मैटेरियल्स की कीमतों में कमी आई और अब सीमेंट और स्टील के कीमतों में कमी आ गई है। एक तरफ जहां सीमेंट और स्टील की कीमतों में कमी आई है वहीं दूसरी तरफ बालू की कीमतें बढ़ गई है।

लेकिन उत्तर प्रदेश में घर बनाने वाले लोगों को राहत मिली है क्योंकि सरिया की कीमतों में गिरावट हुई है।

इसका कारण आयात घटने और निर्यात बढ़ना है। तकरीबन दो से चार हजार रुपये प्रति टन की गिरावट इस्पात में दर्ज की गई है।आपको बता दें कि सरिया के दाम में ₹4000 की गिरावट दर्ज की गई है। पिछले हफ्ते सरिया ₹74000 प्रति टन के हिसाब से बिक रहा था।

अब सरिया की कीमतें घटकर 70,000 से 72,000 रुपये प्रति टन पहुंच गई है। करीबियों का कहना है कि सरकारी नीति में होने वाले बदलाव का इस बार बाजार पर काफी ज्यादा सकारात्मक असर देखने को मिल रहा है।

बता दे की सरिया कीमतों में गिरावट होने से आम जनता के चेहरे पर भी खुशी देखने को मिल रही है। छह डिजिट का आंकड़ा छूने वाले बड़े ब्रांड घटकर 94,000 रुपये प्रति टन तक आ गए हैं।

सरिया के एक्सपोर्ट में आई कमी-
सरिया के एक्सपोर्ट में भी कमी देखने को मिल रही है।इससे बाजार में माल का स्टोरेज बढ़ा है। गर्मी के चलते डिमांड भी कम है। इससे सरिया के रेट में निरंतर कमी बनी हुई है। आपको बता दें कि पहले रूस यूक्रेन पहले सरिया की कीमतों में उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा था लेकिन अब सरिया की कीमतों में कमी होने से लोगों में खुशी देखने को मिल रही है।

Latest Posts

Don't Miss