Latest Posts

बंजर जमीन पर एक किसान खेती कर हर साल कमा रहा है 30 लाख रूपए,MNC की नौकरी छोड़ शुरू की ड्रैगन की खेती

भारत में एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने रेगिस्तान में ड्रैगन फ्रूट उपजा दिया है और एक मिसाल कायम कर दिया है। 50 डिग्री सेल्सियस तापमान में इस इंजीनियर ने रेगिस्तान में ड्रैगन फ्रूट उपजा दिया है।

ये कोशिश करने वाले हैं पाली के जैतारण के लाटौती गांव में रहने वाले हेमेंद्रसिंह उदावत। उन्होंने कई मल्टी नेशनल कंपनी में नौकरी की। 2016 में पिता गंगासिंह उदावत के देहांत के बाद उन्होंने परिवार के साथ रहकर खेती करने का फैसला किया था। तब से पीछे मुड़कर नहीं देखा।

हेमेंद्र सामान्य खेती नहीं करना चाहते थे बल्कि वह कुछ अलग करना चाहते थे।इसके लिए थाईलैंड और वियतनाम जाकर ड्रैगन फ्रूट पर रिसर्च की। आपको बता दें कि उन्होंने 20 बीघा जमीन पर इसकी खेती शुरू की।

शुरुआत में करीब 20 हजार पौधे लगाए। एक साल बाद ही 4 हजार किलो का प्रोडक्शन हुआ। अब हेमेंद्र सिंह हर साल 25 से 30 लाख रुपए की कमाई कर रहे हैं।

आपको बता दें इस खेती को शुरू करने के लिए उन्होंने थाईलैंड में 1 महीने की ट्रेनिंग ली। उनके लिए बंजर जमीन पर ड्रैगन फ्रूट की खेती करना आसान नहीं था लेकिन उन्होंने यह शुरू किया और 50 डिग्री सेल्सियस तापमान होते हुए भी उन्होंने ड्रैगन फ्रूट की खेती बंजर जमीन पर कर डाली।

2018 में 20 हजार पौधे लगाए। इनमें से 16 हजार पौधे थाईलैंड और वियतनाम से एक्सपोर्ट किए। 4 हजार पौधे गुजरात से मंगवाए थे। आपको बता दें हेमेंद्र मल्टीनेशनल कंपनी में काम करते थे लेकिन उन्होंने यह काम छोड़ दिया और अपने परिवार के साथ खेती शुरू कर दी। आपको बता दें कि खेती में हेमेंद्र हर साल लाखों रुपए की कमाई कर रहे हैं।

Latest Posts

Don't Miss