Latest Posts

यूपी के इन शहरों से दिल्ली आप मात्र 75 मिनट मे पहुँच जाएंगे, ये ट्रेन 180 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी

देश और प्रदेश की राजधानी का सफर बरेली से काफी सुखद होने वाला है. बरेली से दिल्ली के सफर में फ्लाइट से 2 से 3 घंटे का समय लगता है. सफर के साथ ही इमीग्रेशन में यात्रियों को काफी वक्त लग जाता है, जबकि लखनऊ के लिए लंबे समय से फ्लाइट शुरू नहीं हो पा रही है. बरेली से देश की राजधानी दिल्ली 250 किमी है, तो वहीं यूपी की राजधानी 236 किलोमीटर है.

75 मिनट पूरा होगा बरेली से लखनऊ- दिल्ली का सफर

मगर, यहां के सफर में कम से कम 3 से 4 घंटे का समय लगता है. हालांकि, दिल्ली वाया बरेली- दिल्ली के बीच देश की प्रमुख ट्रेन राजधानी सुपरफास्ट एक्सप्रेस, लखनऊ मेल, लखनऊ एसी सुपरफास्ट एक्सप्रेस और डबल डेकर एक्सप्रेस आदि वीवीआईपी ट्रेन का संचालन होता है. मगर, इसके बाद भी यात्रियों को सफर में 3 से 4 घंटे का समय लगता है, लेकिन अब बरेली से लखनऊ और दिल्ली का सफर वंदे भारत एक्सप्रेस सिर्फ 75 मिनट यानी सवा घंटे में पूरा कराएगी, जबकि लखनऊ से दिल्ली का सफर सिर्फ ढाई घंटे में पूरा होगा.

इसके लिए इंडियन रेलवे बहुत तेजी से तैयारियों में जुटा हुआ है. उत्तर रेलवे के मुख्यालय (बड़ौदा हाउस), दिल्ली ने बरेली, मुरादाबाद और शाहजहांपुर समेत रूट की सभी स्टेशन के अफसरों को तैयारियां पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं. बड़ौदा हाउस ने संबंधित अफसरों को रेल ट्रैक, प्लेटफार्म के साथ सिंगनल आदि दुरुस्त करने को कहा है. दिल्ली वाया बरेली-दिल्ली के बीच वंदे भारत एक्सप्रेस इस वर्ष के अंत तक या फिर नए वर्ष के प्रथम माह (जनवरी) में चलाने की तैयारी में हैं. इसके लिए तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है.

रेलवे बोर्ड की यह है योजना

वंदे भारत एक्सप्रेस तैयार हो चुकी है. इसका ट्रायल भी लगभग हो चुका है. इसके कोच चेन्नई वर्कशॉप में तैयार हो रहे हैं. पहले चरण में रेलवे बोर्ड 75 ट्रेन चलाने की योजना में हैं. इसमें दिल्ली वाया बरेली-लखनऊ के साथ ही दिल्ली वाया बरेली, लखनऊ – पटना, और दिल्ली -कोलकाता के बीच भी चलाने की योजना है. वंदे भारत एक्सप्रेस 130 सेकंड में 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ सकती है. मगर, पुरानी ट्रेन यह रफ्तार 146 सेकंड में पकड़ पाती थी.

सिर्फ 4 सेकेंड में 100 किमी की स्पीड

वंदे भरता एक्सप्रेस सेमी हाई स्पीड ट्रेन है. ये ट्रेन पूरी तरह से स्वदेशी है. रेलवे अधिकारियों के दावे के अनुसार वंदे भारत ट्रेन 0 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार मात्र 54 सेकंड में पकड़ सकती है. 16 कोच वाली इस ट्रेन के 5 कोच में मोटर है. स्वचालित मोटरों के चलते इसकी रफ्तार और ज्यादा होगी. कहा ये भी जा रहा है कि साल 2025 तक ट्रेन का अपग्रेडेड वर्जन आएगा, जो 260 किलोमीटर प्रति घंटा रफ्तार वाला होगा.

180 किमी प्रति घंटे की रफ्तार, यह हैं सुविधाएं

वंदे भारत 180 किमी प्रति घंटे की टॉप स्पीड से चल सकती है. इसकी बाकी विशेषताओं में शानदार सीट, एक्जीक्यूटिव क्लास में घूमने वाली सीटें, डिफ्यूज एलईडी लाइटिंग, रीडिंग लाइट, बायो-टॉयलेट, स्वचालित दरवाजे, स्लाइडिंग फुटस्टेप्स, सीलबंद गैंगवे, धूल मुक्त वातावरण सुनिश्चित करने का इंतजाम और मिनी-पेंट्री भी शामिल हैं.

Latest Posts

Don't Miss