Latest Posts

यूपी के इस शहर से दिल्ली का सफर हो जाएगा आसान, जल्द चलेगी ये शानदार ट्रेन

दिल्ली और पड़ोसी शहरों को आपस में जोड़ने के लिए नैशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन (NCRTC) रीजनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (Delhi–Meerut Regional Rapid Transit System) बना रहा है. दिल्ली-मेरठ रैपिड रेल योजना राजधानी दिल्ली से गाजियाबाद होते हुए मेरठ को जोड़ने वाली यह रेल लाइन कई मायनों में अनोखी और ऐतिहासिक होगी. वहीं कॉर्पोरेशन ने स्टोशनों तक पहुंचाने के लिए एक फीडर सर्विस शुरू करने वाली है.

नैशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन पर्यावरण के अनुकूल वाहन ऑपरेटरों या एग्रीगेटर्स के साथ साझेदारी करके विश्वसनीय और आरामदायक फीडर सेवाएं प्रदान करने की योजना बना रहा है. एनसीआरटीसी उनके द्वारा प्रदान की जा रही सेवाओं के आधार पर विभिन्न सेवा प्रदाताओं के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर करेगा.

एनसीआरटीसी ने 11 अलग-अलग फीडर सेवाओं की शुरूआत करेगी , जो कार्यालयों, आईटी कॉरपोरेट पार्कों, कॉलेजों, टाउनशिप आदि को जोड़ने के लिए पॉइंट-टू-पॉइंट शटल-बस सेवाओं से शुरू होगी. इसकी मानक और प्रीमियम इलेक्ट्रिक बसों की सेवाएं मिलेगी.

देश का पहला आरआरटीएस

एनसीआरटीसी देश में पहला आरआरटीएस बना रहा है. यह एक रेल आधारित, हाई स्पीड, उच्च आवृत्ति वाला रीजनल कंप्यूटर ट्रांजिट सिस्टम है. इसकी डिजाइन स्पीड 180 किलोमीटर प्रति घंटा और औसत गति 100 किमी प्रति घंटा है. बिजली से चलने वाला आरआरटीएस राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में परिवहन के ग्रीन मोड के रूप में काम करेगा. इससे एनसीआर में वाहनों की बढ़ती भीड़भाड़ और वायु प्रदूषण में भी कमी आएगी.

Latest Posts

Don't Miss