Latest Posts

यूपी के बसों मे अब नहीं होगी टिकटों की हेराफेरी, जानिए क्या होगा बदलाव

उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम (UP State Road Transport Corporation) की बसों में अब टिकटों की हेराफेरी (Ticket fraud in buses) नहीं हो सकेगी। रोडवेज की शत-प्रतिशत बसों में अब इलेक्ट्रानिक टिकट इश्यूइंग मशीन (ETIM) से टिकट मिलेगा। इस व्यवस्था के लिए अंतिम चार क्षेत्रों इटावा, बरेली, मुरादाबाद व कानपुर के लिए 1569 मशीनें आ गईं हैं। एक-दो दिनों में इन्हें इन क्षेत्रों के डिपो में भेज दिया जाएगा।

उत्तर प्रदेश सरकार परिवहन निगम को घाटे से उबारने के लिए कई तरह से प्रयास कर रही है। राज्य सड़क परिवहन निगम प्रबंधन कई क्षेत्रों में डीजल चोरी पकड़ने के साथ ही अब बसों में टिकटों की गड़बड़ी रोकने के लिए ईटीआइएम से टिकट वितरण का निर्णय लिया है। इन मशीनों के जरिए जितने टिकट जारी होंगे उसका सीधा डाटा आनलाइन सर्वर पर अपलोड हो जाएगा।

उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम को 20 क्षेत्रों में बांटा गया है। इसके तहत कुल 115 डिपो आते हैं। सभी क्षेत्रों को अपनी बसों में ईटीआइएम से टिकट वितरण करना है। 16 क्षेत्रों में 9199 मशीनें पहले ही बंट चुकी थीं। अब बचे हुए चार क्षेत्रों के लिए 1569 मशीनें और आ गई हैं। मुरादाबाद में आठ, बरेली में चार, इटावा व कानपुर में छह-छह डिपो हैं।

परिवहन निगम के महाप्रबंधक आइटी यजुवेंद्र कुमार ने बताया कि अब निगम के पास अपनी बसों के बेड़े के लिए कुल 10768 ईटीआइएम आ चुकी हैं। जल्द ही शेष बचे चारों क्षेत्रों मं यह वितरित कर दी जाएंगी। इसके बाद शत-प्रतिशत बसों में इन्हीं मशीनों के जरिए टिकट दिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि निगम 10 प्रतिशत मशीनें अतिरिक्त मंगा रहा है, यह भी एक हफ्ते में आ जाएंगी। वहीं, प्रबंध निदेशक संजय कुमार ने सभी क्षेत्रों के क्षेत्रीय प्रबंधकों व सहायक क्षेत्रीय प्रबंधकों को 10 सितंबर तक हर हाल में अपने-अपने क्षेत्रों में शत-प्रतिशत टिकट ईटीआइएम से देने के निर्देश दिए हैं।

Latest Posts

Don't Miss