Latest Posts

यूपी मे बनने वाली इस एक्सप्रेस-वे का काम अब सरकार की देख-रेख मे होगी, इन 12 जिलों से गुजरेगी

मेरठ-प्रयागराज गंगा एक्सप्रेसवे का अब जमीन पर काम शुरू हो गया है। गंगा एक्सप्रेसवे के हर दिन के कार्य पर शासन की सीधी नजर है। मेरठ से प्रयागराज के बीच 12 जिलों में कितना काम हुआ इसकी रिपोर्ट तैयार होने लगी है। अगस्त की पहली रिपोर्ट में बताया गया है कि 594 किलोमीटर में से 352 किलोमीटर सड़क निर्माण की जमीन बिल्कुल तैयार हो चुकी है।

मेरठ-प्रयागराज गंगा एक्सप्रेसवे अब शासन की प्राथमिकता में है। इसके तहत मेरठ से प्रयागराज तक 594 किलोमीटर के काम को चार पैकेज में बांटा गया है। तीन पैकेज का काम अडानी ग्रुप के पास है तो मेरठ, हापुड़, बुलंदशहर आदि से संबंधित एक पैकेज का काम आईआरबी कंपनी के पास। शाहजहांपुर में शिलान्यास के बाद अब चारों पैकेज में काम शुरू हो चुका है।

अगस्त की पहली रिपोर्ट के अनुसार चारों पैकेज में 352 किलोमीटर एक्सप्रेसवे की जमीन लगभग तैयार हो गई है। मिट्टी वर्क प्रारंभ होना है। सबसे अधिक 75.91 प्रतिशत जमीन तैयार पहले पैकेज में हो चुका है। चौथे पैकेज में काम धीमा है। वहां अभी जमीन तैयार करने का काम करीब 42 प्रतिशत ही हुआ है।

मुख्यमंत्री खुद कर रहे मॉनिटरिंग

अधिकारियों के अनुसार मेरठ-प्रयागराज गंगा एक्सप्रेसवे के निर्माण कार्य की प्रगति की मॉनिटरिंग खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कर रहे हैं। इसी कारण यूपीडा की ओर से इस प्रोजेक्ट को स्पेशल प्रोजेक्ट के तहत देखा जा रहा है। इस कारण अब हर दिन की प्रगति रिपोर्ट तैयार करने का काम शुरू हो गया है।

इस तरह हो रहा चार पैकेज में काम

पैकेज किलोमीटर कंपनी

पहला पैकेज 129.700 आईआरबी

दूसरा पैकेज 151.700 अडानी

तीसरा पैकेज 155.700 अडानी

चौथा पैकेज 156.847 अडानी

कुल 593.947

Note : तस्वीर काल्पनिक है।

Latest Posts

Don't Miss