Latest Posts

राम मंदिर में मिलेगी तिरुपति बालाजी जैसी सुविधाएं,जाने कब तक बनकर तैयार होगा राम मंदिर

अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण को लेकर तैयारियां जोरों शोरों से चल रही है और इसके साथ ही साथ अयोध्या के सुरक्षा को लेकर विशेष तैयारियां की जा रही है।

अभी दर्शनार्थियों की सुरक्षा सम्बन्धित जांच मैनुअल तरीके से हो रही है। इसके कारण श्रद्धालुओं को भारी असुविधा के साथ का सामना करना पड़ता है। आपको बता दें कि इस विषय को लेकर सोमवार को आयोजित स्थाई सुरक्षा समिति की बैठक में अफसरों की विशेष मीटिंग हुई। इस दौरान श्रीरामजन्मभूमि ट्रस्ट के पदाधिकारियों का सुझाव भी लिया गया।

एडीजी सुरक्षा वीके सिंह ने बताया कि ट्रस्ट की अपेक्षा है कि ऐसा सिस्टम विकसित हो जिसमें सुरक्षा व्यवस्था से कोई समझौता न हो लेकिन श्रद्धालुओं की असुविधा का भी ध्यान रखा जाए और उन्हें बिना भय के श्रद्धापूर्वक दर्शन-पूजन में बाधा भी उत्पन्न न हो। एडीजी जोन ब्रजभूषण शर्मा ने बताया कि यात्रियों की परेशानी को कम से कम करने के लिए अत्याधुनिक उपकरणों के प्रयोग पर विचार किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि बैठक में राम मंदिर निर्माण के बाद भविष्य में सुरक्षा व्यवस्था की रुपरेखा किस प्रकार होगी, इस पर मंथन किया गया।

एडीजी जोन ने बताया कि सावन माह में होने वाली कांवड़ यात्रा को सकुशल व शांतिपूर्ण ढंग से संचालन के लिए मंडल भर के जनपदों के आला अधिकारियों की अलग बैठक की गई। इस बैठक में सरयू नदी के स्नान घाट पर दुर्घटना से बचाव से लेकर भगदड़ की आशंका को निर्मूल बनाने के लिए रूट डायवर्जन एवं यात्रा के दौरान विवाद की परिस्थितियों से बचने के लिए यातायात प्रतिबंध पर बिन्दुवार चर्चा की गयी।

इसके साथ भीड़ के दौरान वाहनों की पार्किंग, वन वे, टू-वे एवं यातायात नियन्त्रण पर भी चर्चा की गयी। इसके साथ सभी जनपदों के अधिकारियों के बीच आपसी समन्वय बनाने पर भी विशेष जोर दिया गया। बता दें कि राम मंदिर में भीड़ के अनुसार भक्तों के दर्शन करने की व्यवस्था की जाएगी।

Latest Posts

Don't Miss