Latest Posts

काशी विश्वनाथ धाम में इस सावन पूजा पाठ के लिए तय हुआ नया रेट, यहां देखें पूजा पाठ से जुड़ी सभी जानकारी

14 जुलाई से सावन का महीना शुरू हो रहा है और 2 साल से कावड़ यात्रा बंद थी लेकिन इस बार कावड़ यात्रा शुरू हो जाएगी। आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कावड़ यात्रा को विशेष बनाने के लिए कई तरह के आदेश जारी किए हैं।

काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन करने और पूजा इत्यादि का मन बना रहे हैं तो इसके लिए आपको अपनी जेब ढीली करनी होगी। क्योंकि इस सावन काशी विश्‍वनाथ के दर्शन और पूजा और महंगे हो गए हैं।

हालांकि ऐसा रोज नहीं होगा। यानी कि अन्य दिनों में कम पैसे खर्च करने होंगे लेकिन सोमवार के दिन दर्शन और पूजा महंगी रहेंगी। ये नई दरें पूरे सावन भर लागू रहेंगी। गौरतलब है कि इससे पहले पिछले सावन के दौरान भी विशेष पूजा के लिए शुल्क दरों में बढ़ोत्तरी की गई थी।

बता देगी काशी में पूजा पाठ को लेकर खर्च का लिस्ट तैयार किया गया है।

वाराणसी के कमिश्नर दीपक अग्रवाल के मुताबिक, सावन के पावन महीने में काशी के शिवालय भक्तों के दर्शन के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। वहीं श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में बीते आठ महीनों से भक्तों की संख्या कई गुना बढ़ी है। ऐसे में इस बार सुलभ दर्शन से लेकर खास पूजा के लिए सावन विशेष पूजा शुल्क की नई दरें तय की गई हैं, जो आपको जानना बेहद जरूरी हैं। उन्होंने बताया कि यदि भक्त सोमवार के दिन पूजा करना चाहते हैं तो आपको अधिक पैसे खर्च करने पड़ेंगे। बता दें कि विश्वनाथ धाम कॉरिडोर बनने के बाद यह पहला सावन है, ऐसे में पूजा के लिए भक्तों की भारी भीड़ उमड़ने की उम्मीद है।

ये होगी नई रेट लिस्ट
-सोमवार को मंगला आरती का शुल्क 2000 रुपए
-सामान्य दिनों में मंगला आरती का शुल्क 1500 रुपए
-सुगम दर्शन को सामान्य दिनों में खर्च करने होंगे 500 रुपए
-सोमवार को सुगम दर्शन को खर्च करने होंगे 750 रुपये
-मध्यान्ह भोग आरती, रात्रि श्रृंगार, सप्तर्षि आरती, भोग आरती के लिए 500 रुपये खर्च करने होंगे
-सावन में एक शास्त्री से रुद्राभिषेक कराने का शुल्क 700 रुपये
-सोमवार को पांच शास्त्री से रुद्राभिषेक कराने के 3 हजार रुपये देने होंगे
-सोमवार के अलावा अन्य दिनों में पांच शास्त्री से रुद्राभिषेक कराने को 2100 रुपये देने होंगे
-श्रावण सन्यासी भोग सोमवार के लिए 7500 रुपए
-श्रावण सन्यासी भोग अन्य दिनों के लिए 4500 रुपए
-श्रावण श्रृंगार शुल्क 20 हजार देना होगा

Latest Posts

Don't Miss