Latest Posts

आगरा फोर्ट स्टेशन पर रेलवे उठाने वाला है यह बड़ा कदम,अब गलती करने पर होगा बड़ा पछतावा

ताजनगरी आगरा में रेलवे ने सुरक्षा की दृष्टि के मददेनजर एक बड़ा कदम उठाया है, जिसके तहत शहर के दो रेलवे स्टेशन आगरा फोर्ट और राजा की मंडी को वीडियो निगरानी प्रणाली (वीएसएस) से लैस किया जाएगा। ये परियोजना निर्भया कोष से शुरू की जा रही है।

जिसे अगले साल 2023 तक पूर्ण कर लिए जाने का लक्ष्य रखा गया है। इस बात की घोषणा खुद रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने की है। उन्होंने बताया कि निर्भया कोष से शुरू की गई इस योजना में रेल टेल को रेलवे स्टेशनों पर वीडियो निगरानी प्रणाली यानी सीसीटीवी कैमरों के नेटवर्क की स्थापना का कार्य सौंपा गया है। देशभर के 756 स्टेशनों पर यह सिस्टम लगाए जाएंगे। जिनमें ए-1, बी व सी श्रेणी के स्टेशन शामिल हैं।

अपराधियों का पता लगाने में मिलेगी मदद-

रेल मंत्री ने बताया कि वीडियो सर्विलांस सिस्टम के लिए 756 स्टेशनों की लिस्ट में आगरा में फोर्ट, राजा की मंडी व टूंडला रेलवे स्टेशन को चुना गया है। जबकि आगरा कैंट स्टेशन पर अत्याधुनिक सिस्टम पहले से लगा हुआ है। बता दें कि वीएसएस सिस्टम आईपी बेस्ड होगा।

इसमें सीसीटीवी कैमरों का एक नेटवर्क होगा। इस सिस्टम में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) इनेबल वीडियो एनालिटिक्स सॉफ्टवेयर और फेसियल रिकॉगनिशन सॉफ्टवेयर काम करता है, जिससे जाने-पहचाने अपराधियों का स्टेशन परिसरों में आने पर, उनका पता लगाने तथा उसका अलर्ट जारी करने में मदद मिलेगी।

बता दें कि वीएसएस के अलावा कैमरों, सर्वर, यूपीएस और स्विचों की मॉनिटरिंग के लिए नेटवर्क मेनेजमेंट सिस्टम (एनएमएस) की व्यवस्था भी की गई है। इसमें चार प्रकार के कैमरे (डॉम टाइप, बुलेट टाइप, पैन टिल्ट जूम टाइप और अल्ट्रा एचडी-4के) स्थापित किए जाएंगे।

इसके अलावा प्रत्येक प्लेटफॉर्म पर दो पैनिक बटन भी लगाए जाएंगे। संकट में किसी भी व्यक्ति द्वारा पैनिक बटन दबाने पर ऑपरेटर को वर्क स्टेशन पर संबंधित कैमरे के पॉप-अप के साथ वीएमएस पर एक अलार्म दिखाई देगा।

Latest Posts

Don't Miss