Latest Posts

SUCCESS STORY:पढ़ाई में कमजोर होने के कारण लोग उड़ाते थे मजाक,अफसर बनकर राजेश ने दिया सब को मुंहतोड़ जवाब

अक्सर ऐसा कहा जाता है कि कोशिश करने से इंसान कुछ भी पा लेता है. अफसर बनने का सपना बहुत सारे युवा भारत में सजाते हैं लेकिन इसमें सफल वही होते हैं जो कड़ी मेहनत करते हैं और साथ ही साथ सही रणनीति अपनाकर अपने मेहनत को करते हैं जाते हैं जब तक कि सफलता ना मिल जाए.

कई लोगों का मानना होता है कि जिसका बैकग्राउंड अच्छा होता है वहीं बड़े सपने सजाते हैं और उसे पूरा कर दिखाते हैं. लेकिन ऐसा नहीं है कई ऐसे भी बच्चे होते हैं जो अपनी गरीबी से लड़ते हुए आगे बढ़ते हैं और अपने सपने को सच कर दिखाते हैं. आज हम आपको एक ऐसे ही कैंडिडेट के बारे में बताने वाले हैं.

आज आपको यूपीपीसीएस परीक्षा पास करके एसडीएम बनने वाले राजेश वर्मा की कहानी बताएंगे. वैसे तो राजेश वर्मा शुरू से ही पढ़ाई में काफी ज्यादा कमजोर थे लेकिन वह अपनी कड़ी मेहनत के बदौलत अफसर बनने का सपना पूरा कर दिखाएं.

हिंदी मीडियम से हुई पढ़ाई-

राजेश वर्मा ने अपनी शुरुआती पढ़ाई हिंदी मीडियम में ही की लेकिन अफसर बनने के सपने ने उनके पूरे जिंदगी को बदल दिया.राजेश ने ठान लिया कि वह यूपीपीसीएस परीक्षा पास कर अफसर बनेंगे. इसके लिए उन्होंने करीब 5 साल तक कड़ी मेहनत की. कई बार उन्हें असफलता भी मिली, लेकिन उन्होंने हिम्मत नहीं हारी और लक्ष्य पाने के लिए लगातार मेहनत करते रहे. आखिरकार 2020 में उन्हें सफलता मिल गई.

पिछले बैकग्राउंड को भूलकर करें तैयारी–

राजेश वर्मा का कहना है कि अगर आप यूपीपीसीएस या किसी भी सिविल सर्विस के परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो अपने बैकग्राउंड को पीछे छोड़कर आगे बढ़ते जाएं. तब तक कड़ी मेहनत करते रहें जब तक कि सफलता हासिल नहीं हो जाती. कड़ी मेहनत करने के बाद आपको सफलता जरूर मिलेगी और आप एक दिन इतिहास राचेंगे . वह भी अच्छे से कहते हैं कि कभी भी हार नहीं माने तब तक कोशिश करें जब तक आप सफल ना हो जाए।

Latest Posts

Don't Miss