Latest Posts

UP का यह स्टेशन बनेगा सेटेलाइट स्टेशन,स्टेशन पर यात्रियों को मिलेंगी आधुनिक सुविधाएं,जाने विस्तार से

गोरखपुर कैंट स्टेशन पर रेलवे के द्वारा लगातार यात्रियों की सुविधाओं में बढ़ोतरी की जा रही है। गोरखपुर कैंट स्टेशन पर यात्रियों की ट्रेन नहीं छूटेगी क्योंकि रेलवे के द्वारा गोरखपुर कैंट स्टेशन पर एक और अंडर पास बनाया जा रहा है।

नंदानगर व एयरफोर्स क्षेत्र के लोगों को क्रासिंग खुलने का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। जाम से भी मुक्ति मिलेगी। यात्रियों की सहूलियत के लिए रेलवे प्रशासन के द्वारा कौवाबाग की तरह गोरखपुर कैंट स्टेशन यार्ड स्थित 157 ए स्पेशल क्रासिंग (समपार फाटक) को भी व्यवस्थित करने की तैयारी शुरू कर दी है।

लखनऊ मंडल के इंजीनियर क्रासिंग पर रोड अंडर ब्रिज (आरयूबी या अंडरपास) के निर्माण की संभावनाओं की तलाश में जुट गए हैं। कौवा बाग की तरह कैंट में भी अंडरपास बनाने के लिए मंथन शुरू कर दिया गया है और जल्द ही इस पर कोई बड़ा निर्णय लिया जाएगा।

आसान होगा हजारों लोगों का आवागमन, क्रासिंग पर लगने वाले जाम से मिलेगी मुक्ति-

रेलवे के इंजीनियरों के द्वारा क्रॉसिंग से होकर आवागमन करने वाले लोगों के लिए और क्रॉसिंग पर आने वाली परेशानियों को लेकर मंथन शुरू कर दिया गया है। अंडरपास बनाने जाने से लोगों को आने जाने में काफी सुविधा होने लगेगी। बता दें कि गोरखपुर कैंट स्टेशन को सेटेलाइट स्टेशन बनाने के लिए कवायद शुरू कर दिया गया है।पांच रेल लाइनें तैयार हो रही हैं। नए प्लेटफार्म, भवन, विश्रामालय और फुट ओवरब्रिज बन रहे हैं।

सेटेलाइट स्टेशन के रूप में विकसित होगा कैंट स्‍टेशन-

सेटेलाइट स्टेशन के रूप में विकसित होने के बाद कैंट से ही नरकटियागंज, छपरा और वाराणसी रूट की इंटरसिटी और पैसेंजर सवारी गाड़ियां संचालित होने लगेंगी। इसके सैटेलाइट स्टेशन बन जाने से गोरखपुर जंक्शन पर लोड कम हो जाएगा।

Latest Posts

Don't Miss