Latest Posts

UP में कांवड़ यात्रा के दौरान शिव भक्तों को नहीं दिखेगी मीट और शराब की दुकाने,जारी हुआ आदेश

कल 14 जुलाई से सावन का शुरुआत हो रहा है और उत्तर प्रदेश में कांवड़ियों के लिए इस सावंत कई विशेष सुविधाएं की गई है। बता दे कि कोरोनावायरस के कारण पिछले 2 सालों से कावड़ यात्रा बंद कर दी गई थी लेकिन एक बार फिर से कावड़ यात्रा शुरू हो रही है जिसको लेकर कांवरिया बेहद उत्साहित हैं।

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कांवड़ यात्रा को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने साफ कह दिया है कि कांवड़ मार्ग पर कोई भी शराब और मीट की दुकान नहीं लगेगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के रिएक्शन के बाद पश्चिमी उत्तर प्रदेश में प्रशासन ने मीट मछली के दुकानों पर ताला लगा दिया है और कह दिया है कि यहां पर नॉनवेजिटेरियन दुकान है ना खोलें।

वहीं, मीट की दुकानों को भी कावड़ यात्रा तक बंद कराने के आदेश जारी कर दिए गए हैं. इस आदेश के बाद मेरठ में शराब की दुकानों को ढंकने का काम शुरू हो गया है और मीट की दुकानों पर भी त्रिपाल लगा दिया गया है, ताकि कावड़ियों को ये दुकानें नजर ही ना आए।

आपको बता दें कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कांवड़िए अधिक देखने को मिलते हैं और इधर से वह बाबा को जल चढ़ाने जाते हैं। बता दें कि इस मार्ग पर ट्रैफिक डायवर्ट कर दिया गया है ताकि कांवरिया आसानी से बाबा के जयकारा लगाते हुए अपने गंतव्य स्थानों तक पहुंच सके।

प्रशासन का अनुमान है कि पहले से ज्यादा संख्या में शिव भक्त कावड़ लेकर आएंगे. ऐसे में तैयारी भी पुख्ता होनी चाहिए. जिलाधिकारी मेरठ दीपक मीणा की मानें तो शराब की दुकानों की चौहद्दी बदलने और मीट की दुकानों को बंद करने के आदेश जारी कर दिए गए हैं। बता दे कि जो भी कावड़ियों के रास्ते में मीडिया से शराब की दुकानें आएगी उन्हें काली तिरपाल से ढक दिया जाएगा।

Latest Posts

Don't Miss